Home Political Satires

Political Satires

गुरूजी की टाँगे

भारत में जब गुरुकुल की परंपरा थी तो शिष्य सभी गुरुओं के पास ही रहते थे | गाँव से शहर से दूर कहीं आश्रम...

कर्ण को आज धर्म याद आता है

कर्ण को 'सूत-पुत्र और 'राधेय' भी कहा गया है | इनके अतिरिक्त कर्ण को 'वसुषेण' तथा 'वैकर्तन' नाम से भी जाना जाता है |...

बिल्ली दूध पीना छोड़ देगी

लोककथाएं हमेशा से परंपरा का हिस्सा रही हैं | लोककथाओं के नायक अक्सर, मजाकिया, प्रैक्टिकल जोक दाग देने वाले, चतुर किस्म के होते थे...

कभी कभी ज्यादा ज्ञान भी नुकसान कर जाता है

हां तो जमाना जब जरा पुराना था तो आज जैसे तेज़ यातायात के साधन कम थे | लोग पैदल ही निकल लेते थे, जंगल...

आपकी असहमति

कभी ऐसी कोई फिल्म देखने गए हैं जो बेहद बकवास हो ? जिसका हीरो न पसंद आये, हीरोइन चुड़ैल लगे, डायरेक्टर गधा हो, एडिटर...

झिंगालाला हुर्र हुर्र हुर्र झिंगालाला हुर्र !

Hollywood के मूर्धन्य फिल्मकार Quentin Tarantino है । Tarantino अपने dark humor के लिए जाने जाते हैं । Dark humor क्या होता है ये...

बैरी तर के बात हम ता कहिये देबैय ना..

बैरी तर के बात हम ता कहिये देबैय ना..मैथिली का ये एक बड़ा पुराना किस्सा है | लोक कथाओं की श्रेणी के ये किस्से...

सांड को लाल कपड़ा नहीं दिखाना चाहिए

पिछड़ी जातियों में एक डोम नाम की जाति होती है | बिहार बंगाल में इनकी काफ़ी आबादी है | अगर कभी आपने बांस से...

दूसरा समुदाय

घर पे होने और सफ़र पे होने में बड़ा फ़र्क होता है | घर में महल बहुत safe सा होता है, आपको अपने आस...

अपनी दही को खट्टा कौन कहे

लक्ष्य फिल्म के आखरी दृश्य में जब हृतिक पीछे की सीधी चढ़ाई से ऊपर जा कर पाकिस्तानियों पर हमला करने जा रहा होता है...

Most Read